Share Your view/ News Content With Us
Name:
Contact Number:
Email ID:
Content:
Upload file:

कोटखाई गैंगरेप-मर्डर केस में आईजी समेत 8 गिरफ्तार

 शिमला। कोटखाई में छात्रा से गैंगरेप और हत्या मामले में नया मोड़ आ गया है। अब मामले की जांच कर रही सीबीआई ने पहले जांच के लिए गठित हिमाचल पुलिस की एसआईटी से भी पूछताछ की, जिसके बाद इस टीम में शामिल आईजी समेत 8 पुलिस कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया।
सीबीआई ने कोटखाई हत्याकांड मामले में पुलिस जांच पर सवाल उठाए थे और कोर्ट में अपनी स्टेट्स रिपोर्ट में पुलिस जांच पर आरोप लिखित में दिए थे। कोर्ट ने पुलिस व सीबीआई से जांच को लेकर एफिडेफिट मांगा था। सीबीआई ने अपनी रिपोर्ट दिल्ली हेड क्वाटर्र को भेजी थी, इसी आधार पर सीबीआई ने बीते सप्ताह पूछताछ के लिए डीएसपी और एएसआई को दिल्ली बुलाया था।

सीबीआई ने इसी जांच को आगे बढ़ाते हुए मंगलवार सुबह पुलिस एसआईटी को पूछताछ के लिए शिमला सीबीआई ऑफिस बुलाया था और देर शाम तक पूछताछ करने के बाद आईजी समते 8 पुलिस कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया गया। जिसमें एसआईटी प्रमुख आईजी जहूर जैदी और डीएसपी ठियोग मनोज जोशी का नाम शामिल है।

 सीबीआई ने एसआईटी को जिला अदालत में पेश किया, जहां से कोर्ट ने सभी को 4 सितंबर तक सीबीआई रिमांड पर भेज दिया। सीबीआई के प्रवक्ता आरके गौड़ का कहना है कि कोटखाई प्रकरण मामले में गिरफ्तार आरोपी नेपाली सूरज की पुलिस लॉकअप में हत्या के मामले में पुलिस के आईजी व डीएसपी समेत 8 पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया गया है । उधर, सीबीआई एक संदिग्ध को मंगलवार को आईजीएमसी अस्पताल लाई जहां पर उसका मेडिकल करवाया गया है। सूचना है कि इस मामले में अभी तक 23 संदिग्धों के सैंपल लिए गए हैं। जिनको जांच के लिए फॉरेंसिक लैब में भेजा गया है। अगर इन सैंपल का मिलान होता है तो सीबीआई छात्रा के असल कातिलों तक पहुंच सकती है। आपको बता दें कि सीबीआई ने पकड़े गए आरोपियों के नार्को टेस्ट कराने की मांग भी की थी जिसपर 30 अगस्त को लोअर कोर्ट में फैसला आएगा।

News Source: Agency 29-Aug-2017

0 comments

Discussion

Name:
Email:
Comment:
 
.