Uttarakhand News Portal

Uttar Pradesh

National

अस्पतालों में नहीं आएगी आक्सीजन की कमी

रुडक़ी। सरकारी अस्पतालों में आक्सीजन की कमी के कारण अब किसी मरीज की जान नहीं जाएगी। सभी सरकारी अस्पतालों में बिजली संचालित और सिलेंडर वाली दोनों आक्सीजन उपलब्ध करवाई जाएंगी। सीएमओ ने सभी अस्पतालों को पत्र भेजकर आक्सीजन के संबंध में जानकारी मांगी है। नारसन स्थित सीएचसी अस्पताल में आक्सीजन सिलेंडर न होने की वजह से चार दिन पूर्व एक नवजात की जान चली गई थी। नारसन सीएचसी में केवल बिजली से संचालित होने वाली आक्सीजन थी लेकिन जिस समय महिला ने नवजात को जन्म दिया। उस समय बिजली नहीं थी। जिसके कारण आक्सीजन नहीं चल पाई। नवजात को समय से आक्सीजन नहीं मिल पाने की वजह से उसकी मृत्यु हो गई थी।
 
इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सीएमओ अशोक कुमार गैरोला ने जनपद के सभी अस्पतालों से वहां की आक्सीजन व्यवस्था की जानकारी मांगी है। अस्पताल में बिजली संचालित और सिलेंडर वाली दोनों आक्सीजन होनी चाहिए। जिन अस्पतालों में केवल बिजली संचालित आक्सीजन है। वहां सिलेंडर वाली आक्सीजन की भी व्यवस्था की जाएगी। सीएमओ ने सभी अस्पतालों को इस संबंध में निर्देश दिए हैं कि वह आक्सीजन की दोनों व्यवस्थाएं रखें। सीएमओ ने बताया कि जिन अस्पतालों में केवल बिजली संचालित आक्सीजन की व्यवस्था है। वहां पर सिलेंडर वाली आक्सीजन भी मुहैया कराई जाएगी। इसके अलावा जिन अस्पतालों में बिजली संचालित आक्सीजन नहीं वहां पर इसकी व्यवस्था की जाएगी।

Update on: 07-12-2017

Himachal Pradesh

Current Articles