Uttarakhand News Portal

Uttar Pradesh

National

साहेब की मूर्ति पर फूल माला चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की

देहरादून।  उत्तराखण्ड विधान सभा अध्यक्ष  प्रेम चन्द अग्रवाल बुधवार को डॉ अंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस(पुण्यतिथि) ंपर भारतीय दलित साहित्य अकादमी के तत्वाधान में मसूरी में आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने बाबा साहेब की मूर्ति पर फूल माला चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष ने कहा कि जब हमारे देश भारत में छुआछुत, भेदभाव, उचनीच जैसे अनेक सामाजिक कुरीतियाँ अपने चरम अवस्था पर थी ऐसे में इन बुराईयों को दूर करने में भीमराव अम्बेडकर का अतुल्य योगदान माना जाता है जिसके कारण भीमराव अम्बेडकर को दलितों का मसीहा भी कहा जाता है।
 
उनके महान प्रयास ने देश को एकजुट रखने में बहुत मदद की है। विधान सभा अध्यक्ष ने कहा कि  भीमराव अम्बेडकर ने आधुनिक बौद्धधर्मी आंदोलन लाने के लिये भारत में बुद्ध धर्म के लिये धार्मिक पुनरुत्थानवादी के साथ ही जीवन भर उन्होंने एक विधिवेत्ता, दर्शनशास्त्री, समाजिक कार्यकर्ता, राजनीतिज्ञ, इतिहासकार, मनोविज्ञानी और अर्थशास्त्री के रुप में देश सेवा की। वो स्वतंत्र भारत के पहले कानून मंत्री थे और भारतीय संविधान का ड्रॉफ्ट तैयार किया था। डॉ भीमराव अम्बेडकर द्वारा लिखित भारत का संविधान अभी भी देश का मार्गदर्शन कर रहा है और आज भी ये कई संकटों के दौरान सुरक्षित रूप से बाहर उभरने में मदद कर रहा है। कार्यक्रम में  भारतीय दलित साहित्य अकादमी द्वारा अरविन्द सोनकर व सकुंतला देवी को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में मसूरी विधायक गणेश जोशी, पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला, नगर पालिका अध्यक्ष मनमोहन मल्ल, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष ओपी उनियाल, संस्था के अध्यक्ष सुनील सोनकर, मीरा सकलानी, अनीता सक्सेना, अजय भण्डारी, सभासद शशी रावत, गजेन्द्र सिंह आदि उपस्थित थे।

Update on: 07-12-2017

Himachal Pradesh

Current Articles