Uttarakhand News Portal

Uttar Pradesh

National

आपस में भिड़े भाजपाई व वामपंथी

देहरादून। केरल में भाजपा एवं आरएसएस कार्यकर्ताओं के उत्पीडऩ का आरोप लगाते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं ने राजधानी में जुलूस निकालकर लोकल बस अड्डे पर स्थित भारत की कम्युनिस्ट पार्टी सीपीएम के कार्यालय पर प्रदर्शन किया। इस दौरान भाजपा और वामपंथी कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए और इस दौरान भाजपाईयों ने पथराव शुरू कर दिया और इस पथराव में पत्थर लगने से एक वामपंथी नेता के सिर पर चोट लगी और वह घायल हो गया। इस बीच पुलिस ने लाठीचार्ज करते हुए सभी को तितर बितर कर दिया।
 
यहां परेड मैदान स्थित भाजपा महानगर कार्यालय में महानगर अध्यक्ष उमेश अग्रवाल के नेतृत्व में कार्यकर्ता इकटठा हुए और वहां से कार्यकर्ताओं ने रैली निकाली। दर्शन लाल चौक, घंटाघर, क्वालिटी चौक से होते हुए लोकल रैली सीपीएम और सीपीआइ के कार्यालय के समक्ष पहुंची, जहां पर जमकर प्रदर्शन किया और इस दौरान भाजपा कार्यकर्ता उग्र प्रदर्शन के साथ ही वामपंथी संगठनों के कार्यालय में घुसने की कोशिश करने लगे। वहां मौजूद वामपंथी दलों के कार्यकर्ताओं ने इसका विरोध किया। इस दौरान दोनों पक्ष आपस में भिड़ गए।
 
भाजपा कार्यकर्ता वामदलों के कार्यालय के आगे लगी रैलिंग से आगे बढऩे का प्रयास कर रहे थे, वहीं वामपंथी उन्हें रैलिंग की दूसरी ओर से उन्हें पीछे धकेल रहे थे। इस बीच भाजपाई उग्र हो गये और उन्होंने वहां पर पथराव किया और जिससे वामपंथी नेता शेर सिंह घायल हो गए और दमयंती नेगी को भी चोंटे आई है। वामपंथियों ने भाजपाइयों पर कार्यालय में घुसकर तोडफ़ोड़ का भी आरोप लगाया। वहीं, स्थिति जब बिगडऩे लगी तो पुलिस ने भाजपाइयों पर लाठियां भी फटकारी। कुछ देर प्रदर्शन के बाद भाजपा कार्यकर्ता चले गए। सीटू के प्रदेश महामंत्री बीरेन्द्र भंडारी ने कहा कि भाजपा ने यहां पर पहुंचकर जो पथराव किया है उसकी जितनी निंदा की जाये वह कम है। उनका कहना है कि भाजपाई पहले से ही अपने साथ लाठी डंडे लेकर आये थे। इस मौके पर वामपंथी नेता नेता कमरुद्दीन और शिव प्रसाद देवली ने भाजपा सरकार पर गुंडागर्दी का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि जनता के मुद्दों पर आंदोलन करते हैं तो कनक चौक पर रोक लिया जाता है, लेकिन सोची समझी रणनीति के तहत भाजपाइयों को उनके कार्यालय तक आने दिया गया। इस अवसर पर भाजपा विधायक, पदाधिकारियों सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।
 

Update on: 11-10-2017

Himachal Pradesh

Current Articles