Uttarakhand News Portal

Uttar Pradesh

National

ट्रैकिंग रूट पर मौत का सिलसिला जारी

देहरादून। उत्तराखंड में सोमवार देर शाम एक और ट्रैकर दल को रेस्क्यू किया गया। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र का एक दल यमुनोत्री में फंस गया था। जहां हनुमान चट्टी से 27 किलोमीटर पैदल चलकर इन्हें रेस्क्यू किया गया। दल में मौजूद महाराष्ट्र के रहने वाले राज शेखर की हृदयगति रुकने से मौत हो गयी थी। एसडीआरएफ की टीम को जॉलीग्रांट पर यह सूचना मिली कि महाराष्ट्र का एक दल जानकीचट्टी ट्रैकिंग प्वाइंट पर फंसा हुआ है उनमें से एक सदस्य की हृदयगति रुकने से मौत हो गई है। रास्ता कठिन था और पैदल लगभग 27 किलोमीटर की चढ़ाई चढऩे के बाद ट्रैकिंग प्वाइंट तक पहुंचा जा सकता था।

लिहाजा एसडीआरएफ ने चॉपर के माध्यम से जॉलीग्रांट से उड़ान भरी और जानकी चट्टी होते हुए सभी सदस्यों को हनुमान चट्टी होते हुए जानकी चट्टी लाया गया है। इस महीने कई ट्रैकरों के साथ हादसे हो गए है जिनमे कई लोगों की मौत भी हुई है। गौर हो कि उत्तराखंड की चोटियों पर ट्रैकिंग करने के शौकीनों पर आए दिन आफत आ रही है। 10 दिनों के अंदर ट्रैकरों के साथ चार बड़े हादसे हो गए हैं। कुछ दिन पहले चमोली के रूपकुंड में मुंबई से आए 15 ट्रैकरों के दल के साथ एक दुर्घटना घट गई थी। वहां भी एसडीआरएफ ने मौके पर चॉपर भेज कर रेस्क्यू ऑपरेशन किया था।

 

Update on: 10-10-2017

Himachal Pradesh

Current Articles