Uttarakhand News Portal

Uttar Pradesh

National

दून फुटबाल एकेडमी को मान्यता नहीं: खान

देहरादून। जिला फुटबाल संघ के कार्यकारी सचिव उस्मान खान ने कहा है कि उत्तराखंड स्टेट फुटबाल रेफरीज एसोसिएशन एवं दून फुटबाल एकेडमी कहीं से भी मान्यता प्राप्त नहीं है। इस प्रकार के फर्जीवाड़े को रोकने के लिए कार्ययोजना तैयार की जा रही है। उनका कहना है कि यह मनमाने ढंग से चल रही है।
 
उत्तरांचल प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि उत्तराखंड स्टेट फुटबाल एसोसिएशन के अंतर्गत रेफरीज की एक सब कमेटी होती है और
अखिल भारतीय फुटबाल संघ में भी अलग से कोई रेफरीज एसोसिएशन नहीं होती है और अखिल भारतीय फुटबाल संघ के नियमानुसार जिला फुटबाल संघ में भी एक रेफरी की सब कमेटी होती है जिसमें चेयरमैन जिले की प्रतियोगिताओं में रेफरीज की नियुक्ति की जाती है जो मैचों का संचालन करते है। उत्तराखंड स्टेट फुटबाल रेफरीज एसोसिएशन  एवं दून फुटबाल एकेडमी कहीं से भी मान्यता प्रान्त नहीं है और अपने लेटर हैड पर वी एस रावत मान्यता का जिक्र किया गया है जो पूर्ण रूप से गलत है। उनका कहना है कि वी एस रावत द्वारा खिलाडियों एवं अन्य संस्थाओं को भ्रमित कर उत्तराखंड स्टेट फुटबाल रेफरीज एसोसिएशन द्वारा मनमाने ढंग से कार्य किया जा रहा है जो कि नियम विरूद्घ है, तथा जिला एवं स्टेट एसोसिएशन इसको मान्यता नहीं देते है।
 
उनका कहना है कि इसी आचरण के चलते हुए वर्ष 2013 में वी एस रावत को जिला फुटबाल संघ से सस्पेंड किया जा चुका है और इस वर्ष सितम्बर माह से वी एस रावत को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया गया है। उनका कहना है कि जिला फुटबाल लीग पवेलियन ग्राउंड में चल रही है और  जिसमें 12 टीमें प्रतिभाग कर रही है ओर 28 अक्टूबर को इसका फाइनल होगा। अजबपुर यंगस्टर फुटबाल क्लब एवं सुंदरवाला ब्वॉयज फुटबाल क्लब ने अगले वर्ष होने वाले ए डिविजन लीग के लिए क्वालीफाई किया है। इस अवसर पर गुरूचरण सिंह, लक्ष्मण सिंह ठाकुर, मोहसिन खान, गोविन्द सिंह, सतीश कुलाश्री, अभिरूचि गुरूंग, संजय चंदोला, बी एस रावत, तेजेन्द्र गुरूंग, राकेश बलूनी, वीरेन्द्र रतूडी, अजय कार्की, रमेश राणा आदि मौजूद थे।

Update on: 09-10-2017

Himachal Pradesh

Current Articles