Uttarakhand News Portal

Uttar Pradesh

National

यहां है हनीप्रीत, विपसना ने SIT को दी ठिकाने की जानकारी!

 चंडीगढ़। रेप के दोषी गुरमीत राम रहीम के जेल जाने के बाद से ही फरार चल रही उनकी गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत की अब कभी भी गिरफ्तारी हो सकती है। फरार चल रही हनीप्रीत के बारे में मामले की जांच कर रही SIT को अहम जानकारी मिली है। बताया जा रहा है कि सिरसा डेरा सच्चा सौदा मुख्यालय की चेयरपर्सन विपसना से एसआइटी ने हुडा पुलिस चौकी में करीब साढ़े तीन घंटे तक पूछताछ की। इस दौरान पुलिस ने विपश्यना से हनीप्रीत और पंचकूला में हुए दंगों को लेकर कई सवाल किए। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो पूछताछ में विपसना ने SIT को हनीप्रीत के ठिकाने के बारे में अहम जानकारी दी है। एसआईटी पूछताछ में विपसना ने ये भी कहा कि हनीप्रीत 25-26 अगस्त को पीछे के रास्ते से डेरे में आई थी और अगले दिन यहां से उसका पिता अपने साथ ले गया था। इसके बाद उसे नहीं पता हनीप्रीत कहां है?

 
हार्ड डिस्क नष्ट करने संबंधी सवाल पूछे गए
सूत्रों के अनुसार एसआइटी ने डेरा चेयरपर्सन विपसना से डेरे में लगे हजारों कैमरों की हार्ड डिस्क नष्ट करने संबंधी सवाल पूछे। उसने बताया कि ये सब आइटी देखती थी। कब और किसने उन्हें नष्ट कर दिया इसकी उन्हें जानकारी नहीं है। क्यों इन्हें नष्ट किया गया इसका जवाब भी उनके पास नहीं था। 
 
हिंसा में मेरा इसमें कोई रोल नहीं : विपसना
पुलिस ने विपसना से पूछा कि डेरे में उपद्रव की योजना कैसे बन गई और फिर इस उपद्रव को भड़काने में किन लोगों का योगदान अधिक रहा। इस पर डेरा चेयरपर्सन ने साफ किया कि वह तो डेरा प्रमुख के काफिले के साथ पंचकूला गई थी और बाद में यहां आई। इसलिए उसे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।
 
विपसना से 19 सवाल पूछे गए
डीएसपी बेनीवाल ने बताया कि विपसना से 19 सवाल पूछे गए। वह पूछताछ में सहयोग कर रही है। हम उसे आगे भी पूछताछ के लिए बुला सकते हैं। दरअसल कई दिनों तक अंडरग्राउंड रहने के बाद डेरा चेयरपर्सन विपसना पूछताछ के लिए SIT के पास पहुंची थी। घंटों चली इस पूछताछ में विपासना ने राम रहीम और हनीप्रीत समेत कई लोगों के बारे में SIT को कई अहम जानकारी दी है।
 
कहां छुपी बैठी है हनीप्रीत? 
बता दें कि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम की मुंह बोली बेटी हनीप्रीत को नेपाल के इटहरी में धरान इलाके में देखा गया है। सूत्रों की माने तो वह मोरांग जिले में छुपी हुई हो सकती है। ऐसा कहा जा रहा है वह बार-बार नेपाल में अपनी लोकेशन बदल रही है। भारतीय पुलिस हालांकि इस तरह की सूचना मिलने के बाद नेपाल पुलिस की मदद से उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

Update on: 19-09-2017

Himachal Pradesh

Current Articles