Uttarakhand News Portal

Uttar Pradesh

National

ग्रामीणों का पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन

 जोशीमठ। लाता गांव के युवक को कीड़ाजड़ी रखने के आरोप में पुलिस के गिरफ्तार करने से ग्रामीण भडक़ उठे। उन्होंने जुलूस निकालकर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया। ग्रामीण एसडीएम से भी मिले। बताया कि स्थानीय लोगों के पास कीड़ाजड़ी टिपान की अनुमति है। इसलिए पुलिस कार्रवाई गलत है।
शुक्रवार को जोशीमठ विकासखंड के लाता गांव निवासी महेंद्र ङ्क्षसह राणा को मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने 370 ग्राम कीड़ाजड़ी के साथ गिरफ्तार किया था। शनिवार को पुलिस ने आरोपी युवक को न्यायालय में पेश किया।

जहां से उसे जिला कारागार पुरसाड़ी भेज दिया गया। युवक की गिरफ्तारी पर शनिवार को ग्रामीण भडक़ उठे। नीती घाटी के ग्रामीणों ने जोशीमठ में पुलिस कार्रवाई के खिलाफ जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। तहसील परिसर में भी नारेबाजी की। ग्रामीणों का कहना है कि वन विभाग ने उन्हें कीड़ाजड़ी टिपान की अनुमति दी है। बताया कि युवक टिपान कर गांव जा रहा था। पुलिस ने उसे गांव जाने वाले रास्ते में गिरफ्तार कर लिया, लेकिन गिरफ्तारी जोशीमठ में दिखाई। इसलिए पुलिस कार्रवाई गलत है।

उन्होंने कीड़ाजड़ी विपणन के लिए ठोस नीति बनाने की भी मांग की। ग्रामीणों ने कहा कि यदि दोबारा पुलिस इस प्रकार की कार्रवाई करेगी तो ग्रामीण आत्मदाह जैसे कदम उठाने से पीछे नहीं हटेंगे। मौके पर राजेंद्र ङ्क्षसह रावत, रमेश चंद्र सती, कीरत भंडारी, ब्लॉक प्रमुख प्रकाश रावत, रामेश्वर प्रसाद थपलियाल, ठाकुर ङ्क्षसह राणा आदि मौजूद थे।

Update on: 17-06-2017

Himachal Pradesh

Current Articles