Uttarakhand News Portal

Uttar Pradesh

National

अतिथि शिक्षकों का क्रमिक अनशन जारी

देहरादून। माध्यमिक अतिथि शिक्षक संघ का पुनर्नियुक्ति की मांग को लेकर क्रमिक अनशन शनिवार को भी जारी रहा। इस दौरान अध्यक्ष विवेक यादव ने कहा कि सरकार द्वारा उन्हें पुनर्नियुक्ति नहीं दी जा रही है। सरकार उनके हितों के लिए गंभीर नहीं दिखाई दे रही है। शीइा्र ही उनकी समस्याओं का समाधान नहीं किया गया तो चरणबद्घ तरीके से आंदोलन किया जायेगा। प्रदेश में नई सरकार का गठन होने के बाद भी अतिथि शिक्षकों की ओर अभी तक किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है।

अतिथि शिक्षकों को बेवकूफ बनाने का काम किया जा रहा है और इसे अब सहन नहीं किया जायेगा। शिक्षा मंत्री कई बार आश्वासन दे चुके है कि अतिथि शिक्षकों के साथ बुरा नहीं किया जायेगा किन्तु विभागीय अधिकारी सरकार को गुमराह कर रहे हैं और ढाई माह के बाद भी अतिथि शिक्षकों के हितों के लिए किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही की गई है जो चिंता का विषय है।

वक्ताओं का कहना है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पिछले दिनों अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति का आश्वासन दिया किन्तु आज किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं हो पाई है जो चिंता का विषय है।  अभी तक अतिथि शिक्षकों के संबा में उच्च न्यायालय द्वारा दो माह के सेवा विस्तार की कार्यवाही भी आज तक नहीं की गई है और अतिथि शिक्षकों को मजबूरन आंदोलन करना पड़ रहा है। उनका कहना है कि वह अपने संघर्ष को जारी रखेंगें। प्रशासनिक अधिकारी के जरिये मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया गया। प्रदर्शनकारियों में कविन्द्र कैन्तुरा, महावीर, राजपाल, हरीश आर्य,  भूपेन्द्र भंडारी, रविन्द्र सिंह, विनोद सेमवाल, मनीष, लकी राणा, राजू धामी, कृष्णा, दिनेश टम्टा, बलवीर तोमर, दौलत जगूडी, दुर्गा गुनसोला, चांदनी, रूपाली आदि शामिल रहे।

Update on: 17-06-2017

Himachal Pradesh

Current Articles