Uttarakhand News Portal

Uttar Pradesh

National

अब देश में सिर्फ और सिर्फ विकास की राजनीति ही चलेगी : योगी आदित्यनाथ

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भरोसा है कि देश से अब जातिवादी तथा तुष्टीकरण की राजनीति समाप्त होगी। योगी आदित्यानाथ ने आज लखनऊ में भारतीय जनता पार्टी की कार्यसमिति की बैठक का औपचारिक उद्घाटन किया।योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी को देश का संचालन करना सिखा दिया है। अब देश में सिर्फ तथा सिर्फ विकास की राजनीति ही चलेगी। धर्म, जाति, संप्रदाय तथा तुष्टीकरण की राजनीति अब समाप्त होने की ओर है। पीएम मोदी ने देश का संचालन करना सभी को सिखाया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी की उम्मीदों पर खरा उतरने का प्रयास किया है।  उन्होंने कहा कि देश में विकास की राजनीति टिक पाएगी। भारतीय जनता पार्टी की नीतियों से देश का विकास होगा। अब सिर्फ भाजपा ही सफल नेतृत्व देने की क्षमता रखती है। बाकी दल काफी पीछे रह गए हैं।

अब देश तथा प्रदेश से जातिवादी व तुष्टीकरण की राजनीति खत्म होगी। उन्होंने कहा कि हमको मोदी जी ने दिखाया कि कैसी सरकार चलानी है। हमें एक बहुत महत्वपूर्ण दायित्व मिला है। उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार एक चर्चा का विषय है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अराजकता से निपटने के लिए कोई चुनौती नहीं है। हमारे लिए राजनीति पद प्राप्ति का साधन नही है। हम एक पारदर्शी और सक्षम सरकार देंगे।योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गुंडाराज खत्म करने को काम कर रहे,100 दिनों में सभी मुद्दों पर सार्थक परिणाम देंगे। भ्रष्टाचार पर जीरो टालरेंस नीति अपनाएंगे। सड़कों पर गढ्ढों से उत्तर प्रदेश की पहचान होती थी। 15 जून तक सड़के गढ्ढा मुक्त करेंगे। कानून का राज स्थापित करना प्राथमिकता, किसी तरह के माफिया से सख्ती से निपटेंगे। कानून से खिलवाड़ किया तो खैर नही। कनेक्शन लेने वाले परिवार बिल समय से दें। बिजली चोरी कम हुई तो गांवों को भी 24 घंटे बिजली, फसल जलने पर मुआवजा दिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 4 पुरानी और 1 नई चीनी मिल चलाएंगे।  चीनी मिल मालिको को बकाया देने को कहा, उत्तर प्रदेश का चीनी उत्पादन में पहला स्थान। 5500 करोड़ का बकाया भुगतान किया। गन्ना बकाया का भुगतान होना चाहिए,पिछले बकाए का 120 दिन में भुगतान होना है। पहली बार आलू का समर्थन मूल्य लागू हुआ।आलू किसानों को जहां लाभ हो वहां आलू बेचें। घोषणा पत्र का नाम लोक कल्याण संकल्प पत्र रखा,किसानों का 1 लाख तक कर्ज माफ किया,36 हजार करोड़ करोड़ से किसानो को लाभ।आज से सभी लाल बत्तियां उतर जाएंगी,विद्युत आपूर्ति मामले मे भी वीआईपी कल्चर बंद हो। शासन में भरोसा न करने वाले मानक पूरे नहीं कर सकते। 7वें वेतन आयोग के बाद 30 हजार करोड़ का भार आया। आज प्रशासन के अधिकारी सुरक्षित हैं।

हम शाकाहारी होकर क्या किसी से कमजोर है कुछ लोगों ने स्वास्थ्य के खराब होने का भी हवाला दिया,शाकाहारी लोग मांसाहारियों से कमजोर नहीं है। बूचड़खाने बंद कराने में अधिकारियों से छुरेबाजी होती थी,सत्ता बदल चुकी है,अब कोई छुरा नहीं मारेगा। माताओ,बहनो से बहुत समर्थन मिला। NGT ने अवैध बूचड़खाने बंद करने को कहा, NGT के आदेशों के बाद भी बूचड़खाने बंद नही हुए। आपको जानने का अधिकार है कि सरकार क्या कर रही है।

Update on: 01-05-2017

Himachal Pradesh

Current Articles