Share Your view/ News Content With Us
Name:
Contact Number:
Email ID:
Content:
Upload file:

सहस्त्ऱधारा को अन्तराष्ट्रीय पर्यटन स्थल बनाना है : डीएम

देहरादून । पर्यटन सीजन के दृष्टिगत पर्यटन स्थल सहस्त्रधारा  की समुचित व्यवस्था प्रबन्धन हेतु गठित की गई ़सहस्त्रधारा पर्यटन गन्तव्य प्रबन्धन संयुक्त समिति की प्रबन्धनकारणी के सदस्यों के साथ जिलाधिकारी देहरादून बीवीआरसी पुरुषोत्तम की अध्यक्षता में सहस्त्रधारा पर्यटन केन्द्र में बैठक सम्पन्न हुई।

बैठक में उन्होने कहा कि सहस्त्ऱधारा को अन्तराष्ट्रीय पर्यटन स्थल बनाना है जिसके लिए सभी को अपने दायित्वो का निर्वहन जिम्मेदारी से करने की आवश्यकता है। उन्होने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि पर्यटको को किसी प्रकार से कोई असुविधा न हो इसके लिए सभी आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। उन्होने अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान को निर्देश दिये है कि सहस्त्रधारा मे पानी की पक्की टकियों की व्यवस्था की जाये, जिसका संयोजन पेयजल लाईन से करते हुए उसमें नलों की व्यवस्था की जाये, ताकि पर्यटकों के पीने के पानी की कोई समस्या न हो साथ ही क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी को निर्देश दिये कि पानी के स्टैन्ड पोस्ट के बैस्ट माडल चुन कर पर्यटन स्थल पर लगने चाहिए। बैठक में क्षेत्रीय लोंगो ने समस्या बताई की अधिकतर रोड लाइटे जल नही रही है जिस पर उन्होने पर्यटन गन्तव्य प्रबन्धन संयुक्त समिति के सदस्यो से उसे लाइन मेन से चैक कराकर चिन्हित कर ठीक करवाने तथा विघुत की समुचित व्यवस्था करने हेतु क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी को निर्देश दिये है कि जिन विधुत पोलों पर मरकरी लाईट लगाई गई है तथा जो लाईटें खराब है व जिन पोलों में विघुत की सप्लाई नही हो रही है उन्हे तत्काल ठीक कर विधुत आपूर्ति सुचारू की जाये। उन्होने सहस्त्रधारा में बनाये गये 24 सीटर शौचालय को सहस्त्रधारा पर्यटन गन्तब्य प्रबन्धन संयुक्त समिति को उपलब्ध कराने के निर्देश क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी को दिये है।  जो इसे पूर्ण रूप से सुसज्जित रखते हुए साफ सफाई की व्यवस्था भी करेंगे। उन्होने सहस्त्रधारा में समुचित पार्किंगं के रेट लिखा हुआ सहस़्धारा गन्तव्य संयुक्त समिति का बोर्ड होना चाहिए, उन्होने पार्किंग एवं सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करने के भी निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।

बैठक में क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी देहरादून ने जिलााधिकारी दे० दून को अवगत कराया कि ग्राम पंचायत स्तर से 26 व्यक्तियों को अग्रेत्तर तालाबों का ग्राम पंचायत द्वारा रू० 1 हजार प्रति तालाब के अनुसार आवंटन किया जाता था, चालू वर्ष के सीजन हेतु उक्त  सिंचाई विभाग द्वारा किये गये आवंटनकी प्रक्रिया गठित समिति के माध्यम से कराये जाने हेतु सहमति दी गयी है। वर्तमान में सीजन प्रारम्भ होन पर समति द्वारा विचार विमर्श कर निर्णय लिया गया है कि तालाबों का नियमानुसार संचालन गत वर्ष धनराशि में बढोत्तरी करते हुए बड़े तालाबों से रू० 1 हजार पांच सौ तथा छोटे तालाबों से रू० 1 हजार की धनराशि वसूल करते हुए चालू सीजन हेतु आंवटित कर दिया जाये।  अब सहस्त्रधारा पर्यटन स्थल ़सहस्त्रधारा पर्यटन गन्तव्य प्रबन्धन संयुक्त समिति के अधीन है, तथा ग्राम पंचायत का प्रस्ताव है कि समिति टैण्डर के माध्यम से फिर स्थानीय लोंगो को दे 28 लोगो की सूची समिति के पास आ गई है। उन्होने अधिकारी एंव समिति के सदस्य को पर्यटन स्थल पर होने वाले कार्यो में लगने वाले धन का स्टीमेट बनाकर तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
 
बैठक में उन्होने कहा कि सहस्त्रधारा पर्यटन गन्तव्य प्रबन्धन सयुक्त समिति कार्यालय में पीआरडी के माध्यम से पढे लिखे लडक़े को रखे तथा जगह-2 यात्रियों की सुविधाओं हेतु साइनेज बोर्ड लगाये जिससे बाहर से आने वालो यात्रियों को किसी प्रकार की कोई असुविधा न हो।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी सुशील कुमार, एसडीएम सदर रंजना वर्मा, अधि$ अभियन्ता जल संस्थान जी$पी गैरोला, योगेन्द्र कुमार गंगवार क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी, एम$एम खान जिला पंचायतराज अधिकारी,भरत सिंह नेगी अपर मुख्य पंचायतराज अधिकारी, एस$एस रावत अधि$ अभियन्ता, अनिल कुमार अग्रवाल सहस्त्रधारा रोपवे,वीर सिंह चौहान प्रधान ग्राम पंचायत नागलहटनाला, रतन सिंह नेगी अध्यक्ष व्यापार मण्डल सहस्त्रधारा, श्रीमती मुन्नी देवी ग्राम प्रधान कार्लीगाड कुसुम ठाकुर पूर्व प्रधान कृषाली ग्राम, स्थानीय लोगों ,सहित सम्बन्धित अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

Election schedule for Mandi Parliamentary Constituency bye-election

Shimla : Chief Electoral Officer Shri Narender Chauhan disclosed here today that the Election Commission of India had declared Bye-Election for 2-Mandi Parliamentary Constituency today with polling date 23rd June, 2013. He said that with the announcement of the same the Model Code of Conduct had come into force in the districts of Chamba, Lahaul-Spiti, Kullu, Mandi, Shimla and Kinnaur. 

He said that as per the schedule, issued by Election Commission of India, the notification of the bye-election would be issued on 29th May, 2013 and the last date of making nomination would be 5th June, 2013. The scrutiny of the nominations would be done on 6th June, 2013 and the last date for withdrawal of candidature has been fixed on 8th June, 2013. The polling would take place on 23rd June, 2013 between 8.00 am to 5.00 pm. The counting of votes would be done on 27th June, 2013.

Chief Electoral Officer said that Mandi Parliamentary Constituency has 11,24,770 voters out which 5,66,946 are male and 5,46,140 are female voters, while 11684 are service voters. He said that a total of 1921 polling stations would be set up for smoothing polling in this bye-election. 

Shri Narender Chauhan said that a complaint cell has been set up in State Election Department with telephone number 0177-2622721

शराब बेचने का अवैध धंधा जारी

रूडक़ी। नगर व आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में शराब माफिया पुलिस से बेखोफ होकर खुलकर शराब बेचने का अवैध धंधा कर रहे हैं। ग्रामीणों ने कई बार इसकी शिकायत शासन प्रशासन के साथ साथ आबकारी विभाग से भी की है लेकिन कोई भी अधिकारी उक्त माफियाओं के खिलाफ कोई कार्यवाई नहीं कर रहा है।

 इसी बाबत आज बेलडा गांव निवासी सैकडों महिलाओं ने गांव में अवैध शराब बेचने के धंधे को बंद कराने के लिए कोतवाली सिविल लाईन में धरना प्रदर्शन किया। उन्होंने पुलिस विभाग से कहा कि अगर शीघ्र से शीघ्र गांव में अवैध शराब का धंधा खत्म नहीं हुआ तो वह सडकों पर उतरकर आंदोलन करेगी। ग्रामीणों का कहना है कि ऐसा नहीं कि पुलिस गांव में नहीं जाती है। फिर भी यह शराब के माफिया अपनी मनमाफिक शराब बेच रहे हैं। जिससे गांव में छोटे छोटे बच्चों पर असर पड रहा है जिससे उनकी पढाई को भी नुकसान पहुंच रहा है। उन्होंने कहा कि इससे पहले बेलडा में कई बार देशी शराब के ठेके के विरोध में प्रदर्शन किया गया है। बार बार शासन प्रशासन के अधिकारी झूठा विश्वास दिलाकर चले जाते हैं और फिर कोई भी उनके खिलाफ कार्यवाई नहीं करता है। गांव के एक मौज्जल व्यक्ति ने सिविल लाईन कोतवाली प्रभारी जेपी जुयाल से कहा कि ग्रामीण बार बार पुलिस व अधिकारियों केा अवेध शराब बेचने वालों के नाम तक बता चुके हैं लेकिन फिर भी पुलिस उनके खिलाफ कोई भी कार्यवाई नहीं कर रहा है। कोतवाल ने ग्रामीणों केा विश्वास दिलाया कि वह इस पर शीर्घ कार्यवाई करेंगे।
 

महिला को थप्पड़ मारने वाले वन दरोगा पर गिरी गाज

ऋषिकेश। जंगल से घास लेकर आ रही महिला को थप्पड़ मारने वाले वन दरोगा को प्रभागीय वनाधिकारी नरेन्द्रनगर ने स्पष्टीकरण न दिये जाने पर पद से निलबिंत कर दिया है। 

 
मुनिकीरेती क्षेत्र की रहने वाली महिला को विगत सोमवार को जंगल से लकड़ी लाते वक्त थप्पड़ मारने व अभद्र भाषा का प्रयोग करने वाले वन दरोगा राकेश शाह से मामले में प्रभागीय वनाधिकारी नरेन्द्रनगर डा. विनय कुमार भार्गव द्वारा २४ घण्टें के भीतर स्पष्टीकरण मांगा गया था, लेकिन तय समय के बाद भी स्पष्टीकरण न दिये जाने के चलते डीएफओ ने तत्काल प्रभाव से उक्त वन दरोगा को पद से हटाते हुए उसे रजि$ कार्यालय शिवपुरी में सम्बद्ध कर दिया है। गौरतलब है कि भजनगढ़, मुनिकीरेती की रहने वाली एक महिला को उक्त द्वारा पूछताछ के बाद थप्पड़ मार दिया गया था। साथ ही आरोपी ने महिला के साथ अभद्र भाषा का इस्तेमाल भी किया। कई संगीन आरोप भी उक्त पर लगाये गये थे। मामले में स्पष्टीकरण न मिलने के चलते डीएफओ ने यह कार्रवाही की है। उधर जब इस सम्बंध में प्रभागीय वनाधिकारी डा. विनय कुमार भार्गव से बात की गयी तो उनसे सम्पर्क नही हो पाया।
 

चारधाम यात्रा में यात्रियों की सुरक्षा भगवान भरोसे

ऋषिकेश। चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं की तादाद दर्शन को लगातार बढ़ रही है। जबकि मित्र पुलिस के अधिकारी व जवान अस्थाई चौकियों से नदारद है। जवानों के गायब रहने से यहां यातायात व्यवस्था सहित सुरक्षा पर भी सवाल खड़े हो गये है।

चारधाम यात्रा के दौरान सुरक्षा व यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ बनाये रखने को लेकर शहर में पुलिस महकमे द्वारा ६ अस्थाई चौकियां बनाई थी, जिनपर एसआई व करीब चार कोस्टेबल सहित महिला पुलिकर्मी के साथ ही होम गार्डो को भी तैनात किया गया था, लेकिन इन चौकियां पर मंगलवार को न ही पुलिस जवान दिखाई दिये और न ही एसआई। अंदाजा लगाया जा सकता है कि अस्थाई चौकियां से किस तरह से यात्रियों व स्थानीय लोगों की सुरक्षा का ख्याल मित्र पुलिस रख रही है। शहर में घाट रोड़, चन्द्रभागा पुल, सोमेश्वरनगर, पुरानी चुंगी, नटराज चौक व संयुक्त यात्रा बस अड्डे पर अस्थाई चौकियां चारधाम यात्राकाल तक के लिए बनाई गई है। शहर की दो अस्थाई चौकियां, जिनमें चन्द्रभागा पुल व घाट चौक पर तो एक-एक ही पुलिस जवान बैठे हुए मिले। इसे लापरवाही की इम्तहा ही कहेंगे कि आलाधिकारी व्यवस्थाएं चुस्त होने का दम भरते थक नही रहे है, जबकि उनके अधीनस्थ यहां व्यवस्था को बनाना तो दूर अस्थाई चौकियों पर बैठना भी मुनासिब नही समझ रहे है। पुलिसियाई लापरवाही का खामियाजा यहां वाहनों में सवार होकर आने वाले श्रद्धालुओं को जाम से भुगतना पड़ रहा है। सडक़ पर पुलिस के नदारद रहने के चलते स्थानीय लोगों को भी यहां स्लो ट्रैफिक के साथ ही जाम की समस्या से जूझना पड़ रहा है। सवाल उठ रहा है कि जब पुलिस के अधिकारी व जवान अस्थाई चौकियों पर नही है तो कहां है, जिसका जवाब आलाधिकारी से देते नही बन रहा है। साथ ही सडक़ों पर खड़े रहने वाले बेतरतीब वाहनों पर भी पुलिसियाई डंडा यात्रा के शुरू होने के बाद भी नही चल पाया है। मित्र पुलिस आखिर किस तरह से यात्रा के प्रवेश द्वाराऋषिकेश में व्यवस्था संभाले हुए यह सिर्फ उसकी एक बानगी भर है।  

 

उत्तराखंड की तीन बॉक्सर ने सेमीफाइनल में

खटीमा। 14वीं नेशनल सीनियर महिला बॉक्सिंग चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में उत्तराखंड की तीन बॉक्सरों ने रिंग में प्रतिद्वंद्वियों को चित कर सेमीफाइनल में जगह बना ली। चौथे दिन हरियाणा, दिल्ली, मध्य प्रदेश, असम, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर की बॉक्सरों ने भी दबदबा बनाए रखा।

नोजगे पब्लिक स्कूल में चैंपियनशिप के चौथे दिन 51 किलो भार वर्ग में हरियाणा की सोनिया ने सिक्किम की शिवा को, मध्य प्रदेश की अलीजा खान ने मणिपुर की संडी को, अरुणाचल प्रदेश की टोनी बाला ने केरल की चित्रा को, उत्तराखंड की नीलम ने बिहार की रीना को, दिल्ली की शबाना ने पंजाब की पंधीर को, हिमाचल प्रदेश की अंजली चौहान ने जम्मू कश्मीर की सतमंजिल दोलकर को, मिजोरम की विनलाल ने आंध्र प्रदेश की सुजाता को, ऑल इंडिया पुलिस की बसंती ने चंडीगढ़ की सुनीता को हराया। 57 किलो भार वर्ग में झारखंड की सारिका ने बिहार की सरीन बानो को, मणिपुर की चोबरा देवी ने पंजाब की बलवीर को, ऑल इंडिया पुलिस की मंदाकनी ने हिमाचल की गायत्री को, उत्तराखंड की कमला ने राजस्थान की फिजा खान को, एमपी की सोनम ने अरुणाचल की लता रानी को, दिल्ली की शिवानी ने उत्तर प्रदेश की सलिया सिंह को, हरियाणा की मीना ने मिजोरम की डोथ्री को, असम की तवालो ने चंडीगढ़ की रनचरन को शिकस्त दी। 48 किलो भार वर्ग में दिल्ली की पूजा ने राजस्थान की नेहा को, सिक्किम की विद्या ने केरल की हीमा को, मिजोरम की रिविचा ने अरुणाचल की मंदा को, मणिपुर की सरजूबाला ने आंध्र की पुनियावती को, असम की अनीता ने उड़ीसा की म_ू को, हरियाणा की सरोज ने हिमाचल की मोनिका को, एमपी की पूर्णिमा ने महाराष्ट्र की प्रियंका को, चंडीगढ़ की नीतू ने यूपी की रुखसार बानो को पराजित किया। 54 किलो भार वर्ग में आंध्र की सारा ने यूपी की यशाली को, मिजोरम की लालू ने सिक्किम की दिव्या को, हरियाणा की मीना ने पंजाब की प्रीति को, नागालैंड की मीना ने राजस्थान की चंद्रा को, दिल्ली की गीता ने चंडीगढ़ की रीना को, उत्तराखंड की विनीता ने मणिपुर की जमुना को, असम की अंजलि ने हिमाचल की गायत्री को परास्त किया। 60 किलो भार वर्ग में राजस्थान की ममता ने महाराष्ट्र की सोनिया को, अरुणाचल की अंजिमा ने उड़ीसा की समतोसनी को, हरियाणा की प्रियंका ने चंडीगढ़ की गगनदीप कौर को क्वार्टर फाइनल में पंचों से चित कर सेमीफाइनल में प्रवेश किया।
 
इससे पूर्व विधायक पुष्कर सिंह धामी, बॉक्सिंग संघ उपाध्यक्ष मुखर्जी निर्वाण, रिंग ऑफिसर नरोत्तम रावत ने बॉक्सरों का परिचय कराने के बाद क्वार्टर फाइनल शुरू कराए। इस दौरान बोहिंदर जूरी, नरेंद्र निर्वाण, राज्य खेल संघ के उपनिदेशक डॉ. धर्मेद्र प्रकाश भट्ट, उत्तराखंड पुलिस के कोच सीके जोशी, खीमानंद बेलवाल, मनोज सिंह, अर्जुन, मुइया, विजय ठाकुर, आयोजन समिति के मैनेजर हिमांशु बिष्ट, समन्वयक पूरन सिंह बोरा, वरुण अग्रवाल, दीपक तिवारी, नवीन बोरा, सुरेंदर कौर, जगदीश पंत, वीरेंद्र कुमार आदि मौजूद थे।
 

टास्क फोर्स ने खंगाले सीमा के जंगल

खटीमा। अंतरराष्ट्रीय नेपाल सीमा पर तस्करी व अन्य अवांछित गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए स्पेशल टास्क फोर्स ने खटीमा रेंज के जंगलों को खंगाला। इस दौरान कई संदिग्धों से टीम ने पूछताछ की।
 
स्पेशल टीम ने मंगलवार को सीमावर्ती क्षेत्र की सघनता से पड़ताल की। टीम ने खटीमा रेंज के जंगल के आसपास खत्तों में रहने वालों से जंगल में होने वाली गतिविधियों के बारे में जानकारी एकत्र की। लोगों से जंगल में होने वाली संदिग्ध गतिविधियों की सूचना समय पर जिम्मेदार विभागों को देने की अपील की। सीओ जेएस पांगती ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय सीमा खुली होने की वजह से संवेदनशील है। इसको लेकर एसएसपी ने स्पेशल टीम गठित की है, जो माह में दो बार सीमांत क्षेत्र के जंगलों व सीमा पर कांबिंग करती है। इससे विभिन्न विभागों के बीच तालमेल व सीमांत के नागरिकों से निरंतर संवाद कायम होता है। कांबिंग के माध्यम से नकली करेंसी की आमद, तस्करी, गोवंश की तस्करी, जंगलों के अवैध कटान आदि पर अंकुश लगाने की कोशिशें होती हैं। कांबिंग में खुफिया विभाग के साबिर अली, एसआइ संजीव कुमार, गणेश प्रसाद, राजेंद्र सिंह, विजय सिंह, राजेंद्र पाल सिंह आदि शामिल थे।
 

साईन बोर्ड न होने से भटक रहे यात्री

नई टिहरी। यात्रा मार्गो पर यात्री मार्ग न भटके इसके लिये चौराहो पर साइन बोर्ड लगाये जाते है लेकिन नैनबाग मुख्य चौराह पर यमनोत्री धाम जाने वाले मार्ग पर साइन बोर्ड न होने से यात्री मार्ग भटक रहे है। 
 
दिल्ली-यमनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित नैनबाग मुख्य चौराहे पर एनएच विभाग की लापरवाही के चलते यमनोत्री धाम जाने वाले यात्री वाहन चालक के लिये संकेत के रूप मे साइन बोर्ड नही लगाया है। साइन बोर्ड न होने से यात्री यमनोत्री मार्ग के बजाय पंतवाड़ी बनचोरा मोटर मार्ग की ओर भटक रहे है। व्यापार मंडल के अध्यक्ष सरदार सिंह राणा, मोहन लाल निराला, सिंकदर सिंह, गंभीर सिंह रावत आदि का कहना है कि यात्रा के दौरान भारी संख्या मे यंहा यात्रियों की आवाजाही होती है लेकिन साइन बोर्ड के अभाव मे वह मार्ग भटक रहे है। इस संबध मे एनएच विभा्र बडक़ोट के अधिशासी अभियंता दिनेश बिजल्वाण का कहना है कि जिन मार्ग व चौराहो पर बोर्ड नही लगे है वंहा पर शीघ्र ही साइन बोर्ड लगवाये जायेगें।

होटलों पर पुलिस की कार्यवाही, पांच प्रेमी युगल गिरफ्तार

देहरादून। घर से भागकर 'मौज मस्ती की मंशा से आकर होटल आकाशदीप में ठहरे पांच प्रेमी युगलों को पकड़ा। देर रात नगर कोतवाली पुलिस ने क्षेत्र के होटलों पर चेकिंग अभियान छेड़ा। क्षेत्राधिकारी हरीशचन्द्र सती के नेतृत्व में सभी होटलों पर पुलिस ने कार्रवाई शुरू की। एक के बाद एक होटल में भारी संख्या में पहुंची पुलिस को देख कर्मचारियों में हडक़ंप मच गई। सीओ ने बताया कि होटल प्रबंधकों को सीसीटीवी कैमरे, अग्निशमन उपकरण सहित अन्य तमाम खामियां जल्द ठीक करने की हिदायत दी गई। साथ ही सबसे अहम काम कि होटल में ठहरने वालों को बिना आईडी के कमरा न दिया जाए, चेताया गया। 
 
देर रात शहर के अलग-अलग होटलों में चेकिंग को पहुंची पुलिस फोर्स को देख कर्मचारियों में हडक़ंप मच गई। किसी होटल में रजिस्टर मैंटेन नहीं मिला तो कहीं सीसीटीवी कैमरे नहीं मिले। सबसे हैरत वाली बात तो आकाशदीप होटल में सामने आईं। वहां ठहरने वालों की एंट्री वाला रजिस्टर चैक किया गया तो पांच कमरों में पुरूषों के नाम दर्ज मिले। संदेह होने पर इन कमरों की जांच की गई तो प्रत्येक में युगल ठहरे पाए गए। सीओ सिटी के अनुसार पांचो महिलाओं का नाम रजिस्टर में दर्ज नहीं पाया गया। पूछताछ की गई तो सभी युगल एक दूसरे का परिचित बताने पर तुले हुए थे। वहीं चेकिंग में पुरूषों से तो उनकी आईडी मिली, लेकिन महिलाओं के पास यह नहीं मिल सका। 
 
पुलिस के अनुसार सभी युगल अलग-अलग जगहों से भागकर दून पहुंचे थे। कोई टिहरी तो कोई बरेली तो कोई फेजाबाद से भागे हुए थे। परिजनों से बात करने पर पुलिस को पता चला कि ये सभी पिछले दिनों घर से गायब हो गए थे। संबंधित थानों में इनकी गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी। आज पुलिस ने सभी के अदालत में बयान दर्ज कराने के बाद दून पहुंच चुके उनके परिजनों के हवाले कर दिया। सीओ सिटी ने बताया कि अभियान के दौरान खामियां मिलने पर होटल वालों को जल्द कमी पूरी करने की हिदायत दी गई। 
 
'होटलों पर रूटीन चेकिंग का अभियान चलाया जा रहा है। कल रात क्षेत्र के ८ होटलों की चेकिंग की गई। ७ में तो ठीकठाक मिला। होटल आकाशदीप में युगलों के जोड़े पकड़े गए। होटल रजिस्टर में पांचों आदमी के नाम दर्ज थे, लेकिन लड़कियों के नाम दर्ज नहीं थे। होटल के खिलाफ पुलिस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।'- हरीशचन्द्र सती, क्षेत्राधिकारी प्रथम। 
 

Chief Minister inaugurates bridge near Auckland tunnel

Shimla : Chief Minister, Shri Virbhadra Singh today inaugurated a bridge near Auckland tunnel in Shimla on National Highway 5 (NH 5) constructed at a cost of Rs. 2.52 crore under Jawaharlal Nehru National Urban Renewal Mission (JNNURM). 


Chief Minister, on the occasion, said that the foundation stone of this bridge was laid by him during previous regime of Congress in March, 2007 but the BJP Government, who remained in power from 2008 onwards, completely ignored the same and failed to complete it in stipulated time. With the construction of this bridge, the flow of traffic would be eased besides facilitating the pedestrians as separate pedestrian path had also been constructed along-side. 

He said that more than Rs. 10 crore had been spent on construction of tunnel beneath Auckland house school and bridge under JNNURM resulting in shortening the distance by around one and a half kilometre between Lakkar Bazar to Sanjauli. 

Shri Virbhadra Singh disclosed that a additional complex of IGMC would be constructed from Cart Road, near the old bridge on Snowdown Nullah upto the main building of IGMC having facilities of OPD, diagnosis and doctor's rooms with lift facility to facilitate patients and others visiting IGMC every day. 

Urban Development Minister, Shri Sudhir Sharma Chairman, Zila Parishad Shri Chandreshwar Prasad, President Shimla District Rural Congress Shri Kehar Singh Khachi, Chairman, Block Congress Committee, Rural Shri Chander Shekhar Sharma, Former Mayor Shri Sohan Lal, former Deputy Mayor Shri Harish Janaratha, Councillors of Municipal Corporation, Shimla, Advisor to Chief Minister Shri T.G. Negi, Additional Chief Secretary Shri P. Mitra, Deputy Commissioner Shri Dinesh Malhotra, Engineer in Chief, PWD, Shri Pradeep Chauhan, Commissioner, MC, Shimla, Shri Amarjeet Singh and other prominent persons were also present on the occasion. 

तीन आरोपियों पर छेड़छाड़ व मारपीट का मामला दर्ज

रुद्रपुर। बीती सायं ट्रांजिट कैपं क्षेत्र में युवती से छेड़छाड़ करने पर जमकर बवाल हुआ। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले को बमुश्किल शांत कराया। बाद में युवती की ओर से तीन मनचलों के खिलाफ छेड़छाड़ व मारपीट दर्ज कराने का मामला दर्ज कराया है।
 
जानकारी के मुताबिक ट्रांजिट कैपं शिवनगर निवासी एक युवती रविवारकीसायं घर से बाजार की ओर जा रही थी। रास्ते में विवेकनगर कालोनी के युवकों ने उसे घेर लिया और उससे छेड़छाड़ शुरू कर दी। बताया जाता है कि युवती ने जब छेड़छाड़ का विरोध किया तो युवकों ने उससे मारपीट शुरू कर दी। रास्ते में घटना को देख मौके पर लोग एकत्रित होने लगे। इसी बीच युवती के परिजन भी सूचना मिलने पर पहुंच गये और वहां पर बवाल शुरू हो गया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक आरोपी युवक मौका देख वहां से खिसक लिये। बाद में सूचना पर पहुंची ट्रांजिट कैंप पुलिस ने मामले को बमुश्किल शांत कराया। बाद में युवती कीओर विवेकनगर निवासी अर्जुन व उसके साथी दीपक व पंकज के खिलाफ पुलिस को तहरीर दीगयी। जिसमें उससे छेड़छाड़ व मारपीट करने का आरोप लगाया गया। पुलिस ने तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। ट्रांजिट कैंप पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। वहीं दूसरी ओर युवती के परिजनों ने आरोपी अर्जुन व उसके अन्य परिजनों पर भी शिकायत करने पर घर में घुसकर मारपीट करने का भी आरोप लगाया है।
 

सुशीला तिवारी चिकित्सालय में उपचार के दौरान दो की मौत

हल्द्वानी। सडक़ हादसे में घायल व आग से झुलसने से गंभीर दो लोगों की सुशीला तिवारी चिकित्सालय में उपचार के दौरान मौत हो गई। अस्पताल प्रशासन की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
 
प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते दिवस बिठौरी मुरादाबाद निवासी सुनील पुत्र महावीर सिंह की बाइक में रामपुर रोड में देवलचौड़ के समीप अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी थी। जिससे सुनील बुरी तरह घायल हो गया था। उसे उपचार के लिए सुशीला तिवारी चिकित्सालय भर्ती कराया गया। जहां आज उपचार के दौरान मौत हो गई।
 
इधर दूसरी घटना में जसपुर निवासी जमसीदा पत्नी नौशाद बीते दिवस घर में खाना बनाने के दौरान गैस रिसाव के चलते आग लगने से बुरी तरह झुलस गई थी। उसे भी परिजन उपचार के लिए बेस चिकित्सालय लाए थे। जहां उपचार के दौरान उसने भी दम तोड़ दिया। अस्पताल प्रशासन की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
 

21 year old B tech student commits suicide

Dehradun: A 21-year-old B Tech student allegedly hanged himself in his room at a private hostel in the city, police said today. It is being said that the boy took such a step due to a love affair.

 
Abhishek Gurung, a student of B Tech final year at DIT College, was found hanging from the ceiling fan of his hostel room by his friends last night when they returned from a stroll after dinner, they said.

आरटी का पालन न किये जाने के विरोध में उतरे छात्र नेता

देहरादून। पब्लिक स्कूलों द्वारा छात्रों को अनावश्यक रूप से फेल करने व आरटी का पालन न किये जाने के विरोध में प्रदर्शन करते हुए जमकर हंगामा किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं की वहां पर झड़प हुई, वहीं स्कूल प्रशासन ने पहले से ही वहां पर युवकों को बुला रखा था, ताकि एनएसयूआई के कार्यकर्ता हंगामा करेंगे तो वह भी उसका जवाब देंगे और आखिर ऐसा ही हुआ। युवकों ने भी प्रदर्शनकारियों पर धावा बोल दिया और जिससे वहां पर अफरा तफरी मच गई और बाद में पुलिस को लाठियां भी फटकारी और प्रदर्शनकारियों को दौड़ा-दौडा कर पीटा। वहीं चार कार्यकर्ता घायल हो गये, एक बेहोश हो गया। वहीं पुलिस की इस कार्यवाही के विरोध में एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने एसएसपी से भेंट करते हुए इस मामले में दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की।
 
एनएसयूआई के कार्यकर्ता सेंट जूड्स स्कूल पहुंचे और वहां पर उन्होंने पब्लिक स्कूलों के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया और इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि पब्लिक स्कलों को मुख्यमंत्री द्वारा कक्षा १ से ८ तक के फेल हुए बच्चों को प्रमोट करने का आदेश दिया था, लेकिन अभी तक इस दिशा में कोई कार्यवाही नहीं हो पाई और सीएम के आदेशों की लगातार अनदेखी की जा रही है, अन्य स्कूलों के प्रबंधकों ने फेल बच्चों को प्रमोट करने से मना कर दिया है और इसके बाद भी प्रशासन इस पर कोई कार्यवाही नहीं कर पा रहा है। लगातार शिक्षा विभाग व उच्च अधिकारियों के आदेशों की अवलेहना की जा रही है। स्कूल प्रबंध तंत्र स्टे का बहाना बना रहे है। वक्ताओं का कहना है कि शिक्षा विभाग द्वारा स्कूल को नोटिस दिये जाने के बाद भी उसका समुचित जवाब नहीं दे रहा है और लगातार अभिभावकों का शोषण किया जा रहा है। वक्ताओं ने कहा कि स्कूल प्रबंध तंत्र अनावश्यक रूप से अभिभावको पर अतिरिक्त बोझ लाद रहा है, जिसका विरोध किया जायेगा। वक्ताओं ने कहा कि स्कूल द्वारा प्रत्येक सत्र के आरंभ में अभिभावकों का जमकर आर्थिक शोषण किया जा रहा है और पब्लिक स्कूलों द्वारा मनमानी तरीके से फीस में बढ़ोत्तरी की जाती है और इस फीस बढोत्तरी के ऊपर शासन व प्रशासन की तरफ से कोई अंकुश आज तक नहीं लगाया गया है। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने स्कूल को बंद करा दिया जायेगा और इसकी मान्यता रदद करने की भी मांग की जायेगी। वक्ताओं ने कहा कि सीएम ने सभी पब्लिक स्कूलों को आरटीई और फेल बच्चों को प्रमोट करने का आदेश दिया परन्तु यह दोनों स्कूल इन आदेशों को लागू करने से मना कर दिया है और जिला प्रशासन अभी भी इस पर कोई कार्यवाही नहीं कर पा रहा है और जो अधिकारी वहां पर कार्यवाही के लिए जाता है उसे वहां आने तक नहीं दिया जाता और जो जाता है उसे कार्यवाही करने से मना कर दिया जाता है जिला प्रशासन को इस पर सख्त होना होगा। वक्ताओं ने कहा कि स्कूल का प्रबंध तंत्र शिक्षा के अधिकार अधिनियम का कोई पालन नहीं कर पा रहा है और अनावश्यक रूप से कक्षा एक से कक्षा आठ तक के बच्चों को फेल किया जा रहा है और बाद  में सुविधा शुल्क लेकर उन्हें पास किया जा रहा है, लगातार कोर्ट के आदेशों की अवहेलना की जा रही है जिसे स्वीकार नहीं किया जायेगा।
 
प्रदर्शन करने वालों में एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष विनित प्रसाद भटट, समक्ष नौटियाल, हरेन्द्र कुमार, सिद्धार्थ पोखरियाल, सिद्धार्थ कुमार, सोनू कुमार, मोहन भंडारी, रिंकू नैनवाल, यशस्वी शर्मा, मोहन भंडारी, हेमंत मनोडी, मनमोहन सिंह, भूपेन्द्र नेगी आदि शामिल थे।
 

कैबिनेट की सहमति से एसएसबी को सितारगंज में दी जाएगी भूमि

देहरादून : मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने सशस्त्र सीमा बल को सितारगंज में शीघ्र ही भूमि हस्तांतरित करने के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। कैबिनेट की स्वीकृति लेकर यह भूमि एसएसबी को दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि उŸाराखण्ड सीमावर्ती राज्य है। इसकी महत्वपूर्ण सामरिक स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार सुरक्षा बलों को आवश्यक सहयोग देने के लिए तत्पर है। उन्होंने अधिकारियों को सुरक्षा बलों से संबंधित लम्बित मामलों के जल्द निस्तारण के निर्देश दिए।

जानकारी दी गई कि एसएसबी की उŸारकाशी, चम्बा व सतपुली में लगभग 82 एकड़ भूमि थी जो कि वर्ष 2007 में मय भवनादि के उŸाराखण्ड सरकार को हस्तांतरित कर दी गई। उक्त भूमि की लागत के भुगतान के तौर पर एसएसबी को राज्य की पूर्वी अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर वैकल्पिक भूमि राज्य सरकार से उपलब्ध करवाए जाने की सहमति बनी। जनवरी 2013 में एसएसबी द्वारा मामला संज्ञान में लाए जाने पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को औपचारिकताएं शीघ्र पूरी करने के निर्देश दिए। संबंधित जिलाधिकारियों द्वारा भूमि का मूल्यांकन कर शासन को रिपोर्ट सौंपी गई है। इनसे स्पष्ट हो रहा है कि एसएसबी द्वारा राज्य सरकार को दी गई भूमि का मूल्य, एसएसबी के लिए सितारगंज में प्रस्तावित भूमि के मूल्य से अधिक है। मुख्यमंत्री ने प्रकरण को आगामी कैबिनेट में लाने के निर्देश दिए ताकि एसएसबी को अपने सुरक्षा बलों को तैनात करने में असुविधा ना हो।

बैठक में मुख्य सचिव सुभाष कुमार, प्रमुख सचिव राकेश शर्मा, ओमप्रकाश, एसएस संधु, एसएसबी रानीखेत के आईजी श्याम सिंह उपस्थित थे।
 

Quality education is the priority of the Government: CM

 Shimla : Chief Minister, Shri Virbhadra Singh said that the present State Government was committed to provide quality education to the youth near to their homes and had reopened all the 149 schools which were de-notified by the previous BJP Government. He was addressing a mammoth gathering at Chourasi Mandir Complex at Bharmour, in district Chamba today. 

 
He said that to provide quality education was the priority of the government and the people should take benefit of it by sending their children to schools, so that they may be prepared to face the future challenges of life. 
 
Chief Minister said that tribal areas of the State had rich cultural heritage which was needed to be preserved and promoted. He said that the State Government was endeavoured to promote all these areas as religious tourism destinations adding that he had represented the Mandi Parliamentary Constituency for five times and many areas of this constituency were in tribal belts and he was aware of specific local problems of people of tribal areas.
 
He said that the Government was encouraging the private entrepreneurs to set up hydel projects in the State which would provide employment avenues to the local youth. He said that it had been made mandatory to provide preference to local person in these projects.
 
Shri Virbhadra Singh said that the present State Government had made significant achievements during last five months and many important decisions had been taken which would go a long way in the development of the State. He said that previous Government had neglected interests of the people and 
 
various jobs were provided on the basis of party lines whereas the present Government was committed to provide jobs on ability and merit basis. He said that the State Government was endeavoured to fill up all the vacant functional posts in all the departments especially in Education and Health, wherein priority was being given to the tribal areas. 
 
Earlier, the Chief Minister, Shri Virbhadra Singh today performed the foundation stone laying ceremony of Police Station Bharmour near old Bus Stand to be constructed at a cost of Rs. 146.21 lakh and three storey Car Parking having capacity to park 45 vehicles at Bharmour to be constructed at a cost of Rs. 66.39 lakh.
 
Chief Minister assured the people that their demands would be met sympathetically. He announced Rupees five thousand each to cultural troupes for presenting colourful cultural programme on the occasion. 
 
Chief Minister was given a very warm welcome on his arrival at Bharmour. He also paid obeisance at the famous Chourasi Temple. 
 
Forest Minister, Shri Thakur Singh Bharmouri welcomed the Chief Minister and detailed about the various developmental activities being carried out in the Bharmour and Pangi area of Chamba district. He said that Chief Minister was to address a public meeting at Killar today morning but had to cancel the programme due to bad weather conditions. 
 
He requested for the construction of Holi-Chamunda tunnel which would reduce the distance upto 300 kms for Shimla from the area and would provide all weather road connectivity to the people of tribal area besides it would also benefit 21 panchayats of non-tribal areas. He also requested to declare famous Mani Mahesh Yatra of Bharmour as International Fair like Minjar of Chamba. 
 
Shri Brahma Nand, President BCC Bharmour welcomed the Chief Minister.
 
Shri Bhajan Singh Thakur, Member Tribal Advisory Committee and General Secretary, B.C.C. Bharmour presented the demand charter to the Chief Minister. 
 
Shri Amit Bharmouri also spoke on the occasion.
 
Former Minister and MLA, Smt. Asha Kumari, Chairman, HP Pollution Control Board, Shri Kuldeep Singh Pathania, Vice-Chairman HRTC, Shri Kewal Singh Pathania, former MLA and President DCC Chamba, Shri Surender Bhardwaj, Advisor to Chief Minister, Shri T.G. Negi, Principal Secretary to Chief Minister and Tribal Development, Shri V.C. Pharka, Deputy Commissioner Chamba Shri Sandeep Kadam, Superintendent of Police Shri B.M.Sharma, senior officers and other prominent persons were present on the occasion.

CM Himachal administers oath to Chief Parliamentary Secretaries

Shimla : Sh. Virbhadra Singh, Chief Minister administered oath of office and secrecy to Sh. Jagjivan Pal from Sullah Assembly Constituency of district Kangra, Shri Rakesh Kalia from Gagret Assembly Constituency of district Una, Shri Nand Lal from Rampur Bushahr Assembly Constituency and Shri Rohit Thakur from Jubbal-Kotkhai Assembly Constituency of ditrict Shimla, Shri Sohan Lal from Sundernagar Assembly Constituency of district Mandi and Shri Inder Dutt Lakhanpal from Badsar Assembly Segment of district Hamirpur as Chief Parliamentary Secretaries (CPS’s) in a simple but impressive ceremony held at State Secretariat today. 

 
Shri Bharat Khera, Secretary GAD conducted proceedings of the ceremony. 
 
Smt. Vidya Stokes, Irrigation & Public Health and Horticulture Minister, Shri Sujan Singh Pathania, MPP and Power Minister, Shri Thakur Singh Bharmouri, Forest Minister, Shri Mukesh Agnihotri, Industries and Information & Public Relations Minister, Shri Sudhir Sharma, Urban Development Minister, Shri Parkash Chaudhary, Excise and Taxation Minister, Shri Harsh Mahajan Chairman H.P. State Cooperative Bank, Shri Sukhvinder Singh Thakur, State President Himachal Pradesh Congress Committee, Shri T.G. Negi, Advisor to the Chief Minister, Shri V.C. Pharka, Principal Secretary to the Chief Minister, Shri Subhash Ahluwalia, Principal Private Secretary to the Chief Minister, Senior Congress leaders, members of various frontal organisations, senior officers of the state government and people in large number were present on the occasion.

CM Himachal administers oath to Chief Parliamentary Secretaries

Shimla : Sh. Virbhadra Singh, Chief Minister administered oath of office and secrecy to Sh. Jagjivan Pal from Sullah Assembly Constituency of district Kangra, Shri Rakesh Kalia from Gagret Assembly Constituency of district Una, Shri Nand Lal from Rampur Bushahr Assembly Constituency and Shri Rohit Thakur from Jubbal-Kotkhai Assembly Constituency of ditrict Shimla, Shri Sohan Lal from Sundernagar Assembly Constituency of district Mandi and Shri Inder Dutt Lakhanpal from Badsar Assembly Segment of district Hamirpur as Chief Parliamentary Secretaries (CPS’s) in a simple but impressive ceremony held at State Secretariat today. 

 
Shri Bharat Khera, Secretary GAD conducted proceedings of the ceremony. 
 
Smt. Vidya Stokes, Irrigation & Public Health and Horticulture Minister, Shri Sujan Singh Pathania, MPP and Power Minister, Shri Thakur Singh Bharmouri, Forest Minister, Shri Mukesh Agnihotri, Industries and Information & Public Relations Minister, Shri Sudhir Sharma, Urban Development Minister, Shri Parkash Chaudhary, Excise and Taxation Minister, Shri Harsh Mahajan Chairman H.P. State Cooperative Bank, Shri Sukhvinder Singh Thakur, State President Himachal Pradesh Congress Committee, Shri T.G. Negi, Advisor to the Chief Minister, Shri V.C. Pharka, Principal Secretary to the Chief Minister, Shri Subhash Ahluwalia, Principal Private Secretary to the Chief Minister, Senior Congress leaders, members of various frontal organisations, senior officers of the state government and people in large number were present on the occasion.

CM Himachal administers oath to Chief Parliamentary Secretaries

Shimla : Sh. Virbhadra Singh, Chief Minister administered oath of office and secrecy to Sh. Jagjivan Pal from Sullah Assembly Constituency of district Kangra, Shri Rakesh Kalia from Gagret Assembly Constituency of district Una, Shri Nand Lal from Rampur Bushahr Assembly Constituency and Shri Rohit Thakur from Jubbal-Kotkhai Assembly Constituency of ditrict Shimla, Shri Sohan Lal from Sundernagar Assembly Constituency of district Mandi and Shri Inder Dutt Lakhanpal from Badsar Assembly Segment of district Hamirpur as Chief Parliamentary Secretaries (CPS’s) in a simple but impressive ceremony held at State Secretariat today. 

 
Shri Bharat Khera, Secretary GAD conducted proceedings of the ceremony. 
 
Smt. Vidya Stokes, Irrigation & Public Health and Horticulture Minister, Shri Sujan Singh Pathania, MPP and Power Minister, Shri Thakur Singh Bharmouri, Forest Minister, Shri Mukesh Agnihotri, Industries and Information & Public Relations Minister, Shri Sudhir Sharma, Urban Development Minister, Shri Parkash Chaudhary, Excise and Taxation Minister, Shri Harsh Mahajan Chairman H.P. State Cooperative Bank, Shri Sukhvinder Singh Thakur, State President Himachal Pradesh Congress Committee, Shri T.G. Negi, Advisor to the Chief Minister, Shri V.C. Pharka, Principal Secretary to the Chief Minister, Shri Subhash Ahluwalia, Principal Private Secretary to the Chief Minister, Senior Congress leaders, members of various frontal organisations, senior officers of the state government and people in large number were present on the occasion.

खुदाबख्श मजार की करोड़ों की संपत्ति पर भूमाफिया द्वारा निर्माण कार्य

देहरादून। वक्फ बोर्ड की यमुना कालोनी के ठीक सामने चकराता रोड पर खुदाबख्श मजार की करोड़ों की संपत्ति पर भूमाफिया द्वारा निर्माण कार्य किया जा रहा है। जिला प्रशासन व वक्फ पदाधिकारियों को इसकी जानकारी होने के बावजूद भी कोई इस पर कार्यवाही करने को तैयार नहीं हैं। आरटीआई कार्यकर्ता प्रमोद कुमार डोभाल ने सूचना के अधिकार में इसकी जानकारी मांगी तो उसमें भी अवैध निर्माण की पुष्टि हुई है। श्री डोभाल ने राज्यपाल को भी इसकी जानकारी दी, लेकिन फिर भी मामले में कोई कार्यवाही नहीं हो पाई। उत्तराखंड वक्फ बोर्ड में श्री डोभाल ने आरटीआई के तहत जब सूचना मांगी तो जवाब में वहां से यह तो स्वीकार किया गया कि वक्फ संपत्ति में अवैध निर्माण हुआ है, लेकिन इसके बावजूद वक्फ बोर्ड ने जिलाधिकारी से शिकायत करने के अलावा कुछ नहीं किया।
बोर्ड द्वारा दी गई सफाई में कहा गया है कि उन्होंने फैक्स से जिलाधिकारी कार्यालय को अतिक्रमण की सूचना पहले ही दे दी थी, लेकिन वास्तव में वक्फ बोर्ड कार्यालय इस संबंध में कोई पुख्ता दस्तावेज उपलब्ध नहीं करा पा रहा है। बोर्ड जिलाधिकारी को भेजे गए ऐसे पत्र की कॉपी भी नहीं दिखा पाया और न ही जिलाधिकारी कार्यालय में वक्फ बोर्ड के पत्र की प्रति मौजूद है। इससे स्पष्ट होता होता है कि वक्फ बोर्ड ने कोई भी पत्र डाक द्वारा जिलाधिकारी कार्यालय को नहीं भेजा है।
 
चकराता रोड में यमुना कालोनी चौक के सामने जय भगवान नाम के व्यक्ति द्वारा अवैध निर्माण किया जा रहा है। यहां पर पहले से ही वक्फ बोर्ड की संपत्ति और एक मजार स्थापित है। इन भवनों पर किराएदार रहते हैं। अब वह यहां पर कुछ नए निर्माण कार्य कर रहा है। इस मजार के ठीक दूसरी तरफ जय भगवान की परचून की दुकान भी है। उत्तराखंड वक्फ बोर्ड की भूमिका भी इस पूरे प्रकरण में संदिग्ध नजर आती है। वक्फ बोर्ड से आरटीआई कार्यकर्ता प्रमोद डोभाल ने इस संपत्ति के विषय में आरटीआई के अंतर्गत एक आवेदन के द्वारा कुछ जानकारी मांगी थी। बोर्ड की मुख्य कार्यपालक अधिकारी सादिया राशिद खान ने इस खुदाबख्श मजार पर अवैध निर्माण को रुकवाने के लिए 17 दिसंबर को एक पत्र के माध्यम से जिलाधिकारी से शिकायत की। इससे  स्पष्ट होता है कि आरटीआई में सच्चाई सामने आने के डर से बचने के लिए बैक डेट में यह कार्यवाही की गई है। वहीं जिला प्रशासन भी मामले का स्पष्टीकरण नहीं कर रहा है। प्रशासन ने लिखा है कि सडक़ के चौड़ीकरण के दौरान वक्फ की संपत्ति भी इसकी चपेट में आ गई होगी। जिला प्रशासन अवैध निर्माण को खारिज करते हुए आरटीआई कार्यकर्ता और वक्फ बोर्ड का भ्रम बताते हुए इससे पल्ला झाड़ रहा है।
 

BJP shines again by winning four municipal corporation seats

Dehradun : Elections for six municipal corporations were held in uttarakhand on April 28 peacefully and the results were declared on 30th April. The ruling congress had to face a major set back as BJP won four of the six municipal corporations while Congress lost in four seats, whose results have been declared so far.

The results of Dehradun, Haridwar and Haldwani municipal corporations where BJP's mayoral candidates defeated their rivals, were announced on Tuesday. BJP's Manoj Garg defeated Congress candidate Rishiswarananad by 17,147 votes to win Haridwar mayoral seat. BJP's repeat candidate for mayor's seat in Dehradun municipal corporation Vinod Chamoli defeated his nearest rival Suryakant Dhasmana of Congress by over 22,000.

BJP also won the Haldwani Municipal Corporation with its candidate Jogendra Rautela defeating Samajwadi Party's Abdul M Siddiqui by 1,409 votes even as Congress finished third and BJP's Soni Koli defeating Independent Mamata Koli by 4042 votes in Rudrapur.

Of a total of 60 wards in Dehradun municipal corporation 34 went to BJP, 22 to Congress and two each to Independents and BSP.

The Roorkee Municipal Corporation went to Independent candidate Yashpal Rana who defeated his nearest rival Mahendra Arora of the BJP by a narrow margin of over 110 votes.

.